Bollywood

बिहार के इन स्टेशनों से रामलला के दर्शन के लिए चलेगी ट्रेने, देखिये

अयोध्या में 22 जनवरी को रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद श्रद्धालुओं के अयोध्या भ्रमण की रेलवे ने तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए रेलवे आस्था स्पेशल ट्रेन चलाएगा। ट्रेन चलाने की जिम्मेदारी रेलवे ने आईआरसीटीसी को सौंपी है। पूरे देश से एक हजार आस्था स्पेशल ट्रेनों का परिचालन होगा। हालांकि, राज्यवार गाड़ियों की संख्या अभी तय नहीं है। आईआरसीटीसी के टूरिज्म मैनेजर सुनील कुमार ने बताया कि देशभर से अयोध्या के लिए करीब एक हजार ट्रेनों का परिचालन होना है। 15 के बाद राज्यवार ट्रेनों की संख्या और परिचालन समय भी तय हो जाएगा।

बताया गया है कि उत्तर बिहार के सभी मुख्य स्टेशन जैसे मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, बरौनी, कटिहार, बेगूसराय, बेतिया, बापूधाम मोतिहारी, दरभंगा, सीतामढ़ी, मधुबनी आदि से अस्था स्पेशल चलाने की तैयारी है। तकरीबन सभी स्टेशनों के लिए रैक तैयार कर लिया गया है। प्राण प्रतिष्ठा समारोह यानी 22 जनवरी के बाद अस्था स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू होगा। इस ट्रेन के सभी रैक आइसीएफ है और इसमें स्लीपर कोच ही लगाए गए हैं।

अन्य ट्रेनों के मुकाबले कम होगा किराया रेलवे अधिकारी ने बताया कि आस्था स्पेशल का किराया अन्य ट्रेनों से कम होगा, हालांकि कितना कम होगा, यह अभी तय नहीं है। वैसे अन्य ट्रेनों से किराया 15 प्रतिशत तक कम होने की उम्मीद है। इन ट्रेनों में टिकट की बुकिंग आईआसीटीसी के पोर्टल पर जाकर टूरिज्म पर करनी होगी। बताया कि पीआरएस के डेटाबेस में आस्था ट्रेन का प्रोफाइल फिलहाल नहीं दिखाई देगा। वहीं, यात्रियों को टिकट बुकिंग के समय आपातकालीन स्थिति के लिए एक अतिरिक्त मोबाइल नंबर भी देना होगा।

रेल एसपी डॉ. कुमार आशीष ने 23 जनवरी तक रेल जिला मुजफ्फरपुर अंतर्गत सभी थानेदार, दारोगा, जमादार, हवलदार और सिपाही की छुट्टी पर रोक लगा दी है। संभावना जतायी है कि अयोध्या में 22 जनवरी को रामलला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा में जाने के लिए ट्रेनों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ सकती है। मुजफ्फरपुर, बापूधाम मोतिहारी, बेतिया, समस्तीपुर, दरभंगा, सीतामढ़ी आदि रेलवे स्टेशनों पर भीड़ जमा हो सकती है। विधि व्यवस्था बनाए रखने को छुट्टी पर रोक लगायी गई है। उन्होंने यह भी कहा है कि इमरजेंसी में उनके आदेश पर पुलिसकर्मी छुट्टी पर जा सकते हैं। थानेदार और रेल डीएसपी छुट्टी नहीं देंगे।

रेल एसपी की अध्यक्षता में रेल पुलिस, रेल प्रशासन व आरपीएफ की शनिवार को वर्चुअल बैठक हुई। इसमें प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम और अजमेर उर्स को लेकर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की गई। निर्णय लिया गया कि मुजफ्फरपुर सहित अन्य जंक्शनों व स्टेशनों पर बम निरोधक दस्ता के साथ डॉग स्क्वायड की टीम कैंप करेगी। स्टेशनों की पार्किंग में खड़े वाहनों व पार्सल कार्यालय के पार्सलों की डॉग स्क्वायड व मेटल डिटेक्टर से जांच होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button